कान के दर्द से छुटकारा पाएं! चुटकियों में यहां जानिए कैसे? Kan ke dard se chhutkara paye kaise?

कान के दर्द से छुटकारा पाएं! चुटकियों में यहां जानिए कैसे?, Kan ke dard se chhutkara paye kaise?, Kan ke dard se chhutkara kaise paye, kaan ke dard se chhutkara pane ka tarika

कान के दर्द से छुटकारा पाएं – kan ke dard se chhutkara paye kaise?,

kan ke dard se chhutkara :- क्या आपके भी कान में दर्द होता हैं लेकिन कारण के दर्द से छुटकारा कैसे पाएं के बारे में जानकारी पाना चाहते है तो आज हम आपको यही बताने वाले हैं।

कान में दर्द होने के कारण , लक्षण और इसके घरेलू इलाज – Causes , Symptoms And Ear Pain Remedy In Hindi

कान में दर्द (Kan me dard ) होना एक आम समस्या है, जो किसी भी वर्ग के महिला , पुरुष या बच्चे को भी हो सकती है। इस कान के दर्द (Kan ka dard ) के प्रभाव से दिन भर काम करना रोगी के लिए बहुत मुश्किल हो जाता है लेकिन इससे घबराना या डरना नहीं चाहिए। इसके लिए आप अपने घर पर भी घरेलू उपाय ( Home remedies for ear pain in hindi ) के जरिए से समस्या से निजात पा सकते हैं

अक्सर लोग कान दर्द ( kan dard ) से परेशान हो जाते हैं तो कई बार हम अपने कान की सही से सफाई नहीं करते या कान को साफ करने में किसी नुकीली या धारदार चीज का इस्तेमाल कर लेते हैं, जिससे कान में घाव हो जाता है, जिससे कान में दर्द उत्पन्न हो जाता है ।

कभी-कभी कान का दर्द इतना तेज हो जाता है कि रोगी को कान का दर्द सहन करना बहुत मुश्किल हो जाता है। अगर ऐसी समस्या बार-बार हो रही है, तो इसका इलाज करना बहुत जरूरी हैं, क्योंकि यह समस्या आगे जाकर चिंता का विषय बन सकती है ।

कान के दर्द की समस्या को दूर करने के लिए आप सबसे पहले घरेलू उपाय (Home remedies for ear pain in hindi ) की मदद ले सकते हैं और अपने डॉक्टर से भी इस समस्या को दूर करने के लिए परामर्श कर सकते हैं।

इस लेख में हम आपको बताने वाले हैं कि कान का दर्द क्या है और इसके कारण व लक्षण क्या है और कान मे दर्द हो तो इसका इलाज कैसे करें? चुटकियों में ( kan me dard ho to kya kare ) ?

कान का दर्द क्या होता है – What Is Ear Pain In Hindi

कान का दर्द होना एक ऐसी अवस्था है, जिसमें व्यक्ति के एक कान या फिर दोनों कानों में दर्द होता है और इस दर्द का का प्रभाव बच्चे, जवान या बूढ़े किसी को भी हो सकता है। यह दर्द कान से शुरू होकर धीरे-धीरे मुंह , गले और सर तक भी पहुंच जाता है, जो कभी-कभी इतना तेज होता है, जिससे रोगी बेचैन हो जाता है।

कान के दर्द ( kan ka dard ) से होने वाली संवेदना तेज, हल्की या जलन युक्त हो सकती है और इस दर्द की वजह से और रोगी का खाना , पीना , सोना , चलना और अपने दैनिक कार्य करना बहुत तेजी से प्रभावित होता है। इसलिए कान के दर्द को गंभीरता से लेना चाहिए और कान दर्द का इलाज बहुत जल्द करना चाहिए ( kan dard ka ilaj ) ।

अगर कान का दर्द बार-बार हो रहा हो या लंबे समय तक दर्द महसूस हो रहा हो, तो आप घरेलू उपाय ( kan dard ka upay ) से भी कान के दर्द की समस्या को दूर कर सकते हैं और आप चाहे तो कान के विशेषज्ञ को दिखाकर आप कान के दर्द की समस्या से भी छुटकारा पा सकते हैं ।

इस लेख को आप पूरा पढें। इसमें हम आपको कान के दर्द को दूर करने के बहुत सारे कारगर घरेलू उपाय ( Ear pain treatment at home ) बताए हैं, जो कान के दर्द को दूर करने में आपकी मदद करेंगे, तो आइए जानते हैं कि कान के दर्द को दूर करने के घरेलू उपाय क्या हैं?

कान में दर्द होने के कारण क्या हैं? – Ear Pain Causes In Hindi

कान में दर्द होने के कारण तो बहुत सारे हो सकते हैं पर हम आपको कुछ खास कारण बता रहे हैं, जिनसे आपको कान के दर्द का इलाज (Kan dard ka ilaj ) करना आसान हो जाएगा, तो आइए जानते हैं कान के दर्द के कारण क्या है?

• कान में मैल का जमना या फूलना

• कान में किसी तरह का घाव होना

• कान में सूजन आना

• कान मे फोड़ा फुंसी होना

• कान में किसी तरह का संक्रमण होना

• गले में संक्रमण होना

• नाक में संक्रमण होना

• कान के परदे में छेद होना या उसके फट जाना

• नहाते समय कान में साबुन शैंपू चला जाना

• कान में पानी भर जाना

• कान में कोई छोटा सा कीड़ा चला जाना

• बार-बार यह लंबे समय तक सर्दी जुकाम होना

कान में दर्द होने के लक्षण क्या हैं? – Ear Pain Symptoms In Hindi

कान के दर्द होने के लक्षण तो बहुत सारे हो सकते हैं पर हम आपको यहां कुछ ऐसे लक्षण बता रहे हैं, जिनसे आपको कान के दर्द का इलाज ( Ear pain treatment ) करना आसान हो जाएगा।

• कान में रुक रुक कर दर्द होना

• कान में से मैल का निकलना

• कान में भारीपन महसूस होना

• कान से सुनाई कम देना

• कान में सूजन आना

• बार बार उल्टी या मतली होना

• चक्कर आना

• बुखार होना

कान के दर्द से छुटकारा पाने का घरेलू उपाय – Ear Pain Home Remedies In hindi

तो अब आप यहां कान के दर्द से छुटकारा पाने का घरेलू उपाय के बारे में जानने वाले हैं:-

1. लहसुन से कान के दर्द से छुटकारा पाएं!

लहसुन की दो कलियों को छीलकर सरसों के तेल में डालें। और इसको गैस पर रखकर अच्छी तरह से गर्म करें। जब अच्छी तरह से जलकर काला हो जाए, तो उसको गैस चूल्हे से उतार ले और इसको ठंडा करके छानकर एक दो बूंद कान के अंदर डालें। इस घरेलू उपाय से (Home remedies for ear pain in hindi ) कान के दर्द में आपको बहुत जल्दी आराम मिल जाएगा ।

2. मूली के पत्ते से कान के दर्द से छुटकारा पाएं!

मूली के पत्तों को कूटकर इसका रस निकालें फिर इस रस में एक तिहाई भाग तिल का तेल डालकर इसको आग पर अच्छी तरह पकाएं। जब तेल बाकी रह जाए तो इसको उतार लें और इस तेल को छानकर इसकी एक दो बूंदें कान मे डालें। इससे कान के संक्रमण में आराम मिलेगा और कान का दर्द दूर हो जाएगा

3. बकरी का दूध से कान के दर्द से छुटकारा पाएं!

थोड़ा सा बकरी के दूध को बर्तन में लेकर इसको आग पर अच्छी तरह उबाले। जब अच्छी तरह उबल जाए, तो फिर इसको आग पर से उतार कर ठंडा कर लें और फिर इसमें थोड़ा-सा सेंधा नमक मिलाएं और दो-तीन बूंद अपने कान में डाले। इस घरेलू इलाज ( Ear pain home remedies) से बहुत जल्दी ही कान के दर्द में आराम मिल जाता है ।

4. कपूर से कान के दर्द से छुटकारा पाएं!

थोड़ा सा कपूर लीजिए और इसमें बराबर मात्रा में घी मिलाएं और इसको एक बर्तन में लेकर अच्छी तरह से आग पर पकाएं। जब यह अच्छी तरह पक जाए तो इसको उतार कर ठंडा करें और उसकी दो से तीन बूंदे कान में डालें। इस घरेलू उपाय से ( Home remedies for ear pain ) आपको बहुत जल्दी कान के दर्द से छुटकारा मिल जाएगा

5. अदरक का रस से कान के दर्द से छुटकारा पाएं!

अदरक का रस को निकालें फिर इस रस में सेंधा नमक व शहद को इतनी ही मात्रा में सरसों के तेल में डालकर अच्छी तरह पकाएं। जब यह पक जाए थोड़ा गुनगुना करके 2-3 बूंद अपने कान में डालें इससे कान के दर्द ( Kan dard ) में आराम मिलेगा। और कान की सूजन उतर जाएगी और धीरे-धीरे कान का संक्रमण भी खत्म हो जाएगा ।

6. तुलसी से कान के दर्द से छुटकारा पाएं!

तुलसी के पत्तों का रस निकालें और फिर इसमें थोड़ा सा कपूर मिलाकर इसको हल्का गर्म करे। जब यह हल्का गर्म हो जाए, तो हल्का गुनगुने रस की कुछ बूंदें अपने कान में डालने से कान का दर्द और कान की सूजन और कान के संक्रमण से जल्दी आराम मिल जाता है।

खाली तुलसी के पत्तों का रस निकालकर उसको हल्का गुनगुना करके भी कान के दर्द के लिए उपयोग कर सकते हैं। इससे जल्दी फायदा मिल जाता है।

7. प्याज का रस से कान के दर्द से छुटकारा पाएं!

प्याज का रस कान के दर्द को दूर करने का बहुत कारगर घरेलू नुस्खा ( Ear pain remedy ) है, इसके लिए प्याज का रस निकालकर इसको हल्का गर्म कर ले फिर इसको छान कर दो-तीन बूंदे अपने कान में डालें। इससे कान का दर्द दूर होता है कान की फुंसी ठीक हो जाती हैं और कान का संक्रमण भी जल्दी ठीक होने लगता है ।

8. कलौंजी का तेल से कान के दर्द से छुटकारा पाएं!

तीन बूंदे कलौंजी का तेल लीजिए और फिर इसमें तीन बूंदे जैतून का तेल मिलाएं और इसको हल्का गर्म करें जब हल्का गुनगुना हो जाए, तो इस तेल की दो से तीन बूंद रात को सोते समय रोगी के कान में डालें इससे कान का बहना , कान का दर्द ( Kan ka dard ) , कान में पीप या कान का घाव होगा जल्दी ठीक हो जाएगा ।

9. नीम से कान के दर्द से छुटकारा पाएं!

थोड़ी सी ताजा नीम के पत्तों को पानी में डालें और इसको उबालें फिर जब यह उबल जाए इसमे से भाप आने लगे तो इस भाप से अपने कान की सिकाई करें इससे कान का दर्द ,कान का घाव ,कान का बहना और कान का संक्रमण में बहुत जल्दी रोगी को आराम मिल जाता है।

10. कायफल से कम के दर्द से छुटकारा पाएं!

कायफल को सरसों के तेल में डालकर इसको अच्छी से पकाएं फिर इस तेल में से 2-3 बूंदें रोगी के कान में डालें। इससे कान का दर्द , कान का घाव , कान का बहना और कान से संबंधित रोगों में जल्दी आराम मिल जाता है यह कान के दर्द की बहुत अच्छी देसी दवा ( Kan dar ki dava ) है।

11. हींग से कान के दर्द से छुटकारा पाएं!

सर्दी से अगर कान में दर्द ( Kan me dard ) हो रहा हो, तो थोड़ी सी हींग ले फिर इसको सरसों के तेल में डालकर गर्म करें फिर गर्म तेल को थोड़ा नॉर्मल करके इसकी 2 – 3 बूंद कान में डालें। इससे कान का दर्द ठीक हो जाता है और कान मे होने वाले रोगों में इससे बहुत जल्दी रोगी को फायदा मिल जाता है ।

12. हल्दी से कान के दर्द से छुटकारा पाएं!

कान छिदवाने के बाद अगर कान में देर तक दर्द ( Kan me dard) हो रहा हो और आराम नहीं मिल रहा हो, तो थोड़ी सी हल्दी लें और इसमें चूहे की मेगनी को मिलाकर पीस लें और इसका लेप बनाकर कान में लगाएं इससे बहुत जल्दी कान के दर्द में आराम मिल जाता है ।

13. तिल का तेल से कान के दर्द से छुटकारा पाएं!

अपने कानों को स्वस्थ रखने के लिए हफ्ते में एक बार दोनों कानों में एक दो बूंदे तिल के तेल को डालें। यह कानों को रोगों से बचाता है और उनको स्वस्थ बनाता है और साथ ही सुनने की शक्ति बढ़ाता है। कान का दर्द , कान का बहना या कान के संक्रमण से बचाव का बहुत आसान और कारगर उपाय ( Kan dard ka upay ) है ।

14. आम के पत्ते से कान के दर्द से छुटकारा पाएं!

आम के पत्तों को आप कान के दर्द को दूर करने के लिए घरेलू उपाय ( Home remedies for ear pain in hindi ) के तौर पर इस्तेमाल कर सकते हैं । इससे आपको कान के दर्द में जल्दी फायदा मिल जाएगा, और इसके लिए आम की पत्तियों का रस निकालकर उसको हल्का गुनगुना कर ले फिर इसकी 2-3 बूंदे अपने कान में डालें कुछ दिन ऐसा करने से कान के दर्द में आराम मिल जाएगा ।

15. सरसों का तेल से कान के दर्द से छुटकारा पाएं!

कान के दर्द को दूर करने के लिए सरसों का तेल बहुत अच्छा कारगर और फायदेमंद घरेलू उपाय है ( Home remedies for ear pain in hindi ) और पुराने जमाने से इसका इस्तेमाल होता चला रहा है। इसके लिए सरसों के तेल तेल को हल्का गर्म कर ले और फिर इसकी 2-3 बूंदें अपने कान में डाल दें कुछ दिन इसका उपयोग करने से कान का दर्द और फोड़े फुंसी ठीक हो जाएंगे और रोगी को आराम मिल जाएगा

कान के दर्द से बचाव के घरेलू उपाय उपाय – Kan Dard Ka Gharelu Upay

कुछ सावधानियों पर अगर हम अमल करें, तो कान के दर्द से बचाव किया जा सकता है। तो आइए कान के दर्द से बचाव के कुछ घरेलू उपाय ( Kan dard ka gharelu upay ) के बारे में जानते हैं:-

• कान की सफाई में ध्यान रखें किसी धारदार , नुकीली , बर्ड्स या फिर माचिस तीली से कान को साफ ना करें यह कान के लिए नुकसानदायक होता है।

• नहाते समय कान में पानी, साबुन या शैंपू जाने से बचाएं यह कान के लिए नुकसानदायक होता है।

• ठंडी चीजों का सेवन कम करें जैसे कोल्ड ड्रिंक, जूस या शरबत इसका इस्तेमाल कम करें क्योंकि सर्दी से भी कान में दर्द की संभावनाएं बढ़ जाती है।

• धूम्रपान करने से बचें जैसे बीड़ी, सिगरेट, सिगार या हुक्का पीने से अपने आप को बचाएं।

• नशीली और एल्कोहलिक चीजें खाने और पीने से बचें जैसे शराब, बीयर, अफीम और भांग यह कान के रोग को बढ़ावा देते हैं।

• लंबे समय तक हेडफोन का इस्तेमाल करने से बचें इसका कान और उसके पर्दे पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है जो आगे चलकर कान के रोग की वजह बन सकता है।

• कान को तेज हवा और तेज ध्वनि से बचाएं यह कान में दर्द और दूसरे रोग की संभावनाओं को बढ़ा सकता है।

• बाहर के खाने और फास्ट फूड खाने से बचें यह पोषक आहार युक्त भोजन होता है जो हमारी सहत खराब कर सकता है और कान के रोग उत्पन्न कर सकता है।

• कान के दर्द को दूर करने की दवा या घरेलू नुस्खे से फायदा नहीं मिले तो कान के विशेषज्ञ से परामर्श करें और उसके दवाओं का उपयोग करे।

निष्कर्ष – CONCLUSION

कान के दर्द ( Kan Ka dard ) के बारे में आपने विस्तार से पढ़ा और जाना कि कान का दर्द हमारे दिनचर्या को किस तरह प्रभावित कर सकता है। अब कान में दर्द ( Kan me dard ) हो तो इसको फौरन दिखाए अपने डॉक्टर से इसका इलाज कराएं और घरेलू उपाय करने से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श जरूर करें गंभीर अवस्था में कान रोग विशेषज्ञ को दिखाएं आपको हमारा यह एक अच्छा लगा हो तो इसको अपने दोस्तों में शेयर करें

TAGS

# Ear Pain Causes In Hindi

# Ear Pain Symptoms In Hindi

# Kan Dard Ka Ilaj

# Kan Dard Ka Gharelu Upay

# Ear Pain Treatment In Hindi

# Home Remedies For Ear Pain In Hindi

Ear Pain Causes In Hindi, Ear Pain Symptoms In Hindi, Kan Dard Ka Ilaj, Kan Dard Ka Gharelu Upay, Ear Pain Treatment In Hindi, Home Remedies For Ear Pain In Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *